उदास हैं खिलौनें..!

बचपन कहाँ खो गया है..?

Originally published in hi
Reactions 0
163
Sonnu Lamba
Sonnu Lamba 27 Feb, 2021 | 1 min read
Future Childhood Toys Games

उदास हैं खिलौनें, 

हाथ.. जिनके छूने से, 

उन्हें सांस आती थी, 

वो मोबाइल पर जा लगे हैं..!


जिनके साथ, 

वो खेलते, खिलखिलाते थे, 

लडते झगडते और टूट भी जाते थे,

साथी..वो सभी  

मोबाइल पर गेम खेल रहे हैं..!


जाने कैसे.. 

गेंद- बल्ला , गिल्ली -डंडा, 

कंचे - गोली, लूडो -गोटी, 

कैरम बोर्ड, और सुपर हीरो, 

सब छ: इंच की ,

मोबाइल स्क्रीन में जा घुसे हैं..।


खिलौनें उदास हैं, 

उनकी महफिलें वीरान हैं, 

उनके सभी जिगरी दोस्त खो गये हैं..।।

©®sonnu Lamba

0 likes

Published By

Sonnu Lamba

sonnulamba

Comments

Appreciate the author by telling what you feel about the post 💓

  • Charu Chauhan · 1 month ago last edited 1 month ago

    सच....

  • Sonnu Lamba · 1 month ago last edited 1 month ago

    Thank you charu

  • Kumar Sandeep · 1 month ago last edited 1 month ago

    आपकी कलम को बारम्बार नमन🙏✍️

  • Sonnu Lamba · 1 month ago last edited 1 month ago

    थैंक्यू संदीप

Please Login or Create a free account to comment.