हक नहीं हमे आजादी का

.

Originally published in hi
Reactions 0
82
Dakshal Kumar Vyas
Dakshal Kumar Vyas 12 Aug, 2022 | 1 min read
Azadi ka Amrit Mahotsav Independence day India

हक नहीं हमे आज़ादी का त्योंहार मानने का

कोई अर्थ नहीं आज के युवा को देश के बारे में बताने का

जोश जोश में तिरंगा ख़रीद कर फोटो खिंचवा दिया

अगले ही पल यूं सोच सड़क किनारे कोई देखता नहीं

और

तिरंगे को डाल चल दिए

कोन समझाए कि आज़ादी आज भी कागजों में कैद है

आज़ादी को बेड़ियां लगी है आरक्षण की

हा एक दिन सभी के status par देश प्रेम उमड़ जाता है

और

फिर कहीं सड़क पर उतरा कर पत्थर बाज

कहीं बहू बेटी बहन की इज्ज़त लुटता दरिंदा

नज़र आता है

देश प्रेम कहने कि बात नहीं

ओर जो देश के काम न आए वो बेकार ज़वानी है।


दक्षल कुमार व्यास



0 likes

Published By

Dakshal Kumar Vyas

dakshalkumarvyas

Comments

Appreciate the author by telling what you feel about the post 💓

Please Login or Create a free account to comment.